8 Powerful Yoga Exercise for your Eyes in Hindi | Yoga for Eyes | आँखो के लिए योग और व्यायाम

0
159
8 Powerful Yoga Exercise for your Eyes in Hindi | Yoga for Eyes | आँखो के लिए योग और व्यायाम
8 Powerful Yoga Exercise for your Eyes in Hindi | Yoga for Eyes | आँखो के लिए योग और व्यायाम

8 Powerful Yoga Exercise for your Eyes in Hindi | Yoga for Eyes | आँखो के लिए योग और व्यायाम : कई योग आसन विशेष रूप से शरीर के अंगों के कामकाज में सुधार करने के लिए बनाए गए हैं। इसी तरह आंखों की कार्यप्रणाली को बेहतर बनाने के लिए योग में विभिन्न आसन उपलब्ध हैं, ये आसन या आसन आंखों से जुड़ी कई समस्याओं को दूर करने में सहायक होते हैं।

  • जैसे- आंखों में खिंचाव, सूखी आंख, लंबी दृष्टि और अदूरदर्शिता। आंखों के लिए योग एक साधारण नेत्र योग कसरत है जिसे दिन के किसी भी समय, यहां तक कि कार्यालय में भी किया जा सकता है।
  • कुछ महीनों तक नेत्र योग आसनों का नियमित अभ्यास करने से आँखों की क्रियाशीलता अधिक से अधिक सामान्य हो जाती है।
  • हालांकि इस दावे का समर्थन करने के लिए कोई सबूत नहीं है कि नेत्र योग वास्तव में आपकी दृष्टि में सुधार कर सकता है।
  • नेत्र योग वास्तव में आंखों के तनाव के लक्षणों को दूर करने के लिए ध्यान केंद्रित करने की क्षमता में मदद कर सकता है।

आंखों के स्वास्थ्य के लिए योग

दिए गए योग आसनों को नियमित करने के कुछ समय बाद आंखों से जुड़ी समस्याएं धीरे-धीरे कम होने लगती हैं।

सर्वांगासन (Sarvangasana) Shoulder Stand Pose

(Sarvangasana) Shoulder Stand Pose
(Sarvangasana) Shoulder Stand Pose

सर्वांगासन का अर्थ है सभी अंग और आसन। जैसा कि नाम से पता चलता है, यह आसन हमारे पूरे शरीर के अंगों को व्यायाम करने में सहायक होता है। इस योग में पूरे शरीर यानी पैर की उंगलियों से लेकर दिमाग तक की एक्सरसाइज की जाती है।

कैसे करें:-
  • अपनी पीठ के बल लेट जाएं। अपने हाथों को धड़ के बगल में रखें और हथेलियाँ नीचे करें।
  • सांस अंदर लेते हुए अपने पैरों को सीधा ऊपर उठाएं। हथेलियों से कमर को सहारा दें।
  • इस पोजीशन में सीधे रहकर सारा भार कंधों पर डालना होता है।
  • सांस छोड़ते हुए धीरे-धीरे कमर और पैरों को नीचे लाएं।

हलासन (Halasana) Bow Pose

हलासन (Halasana) Bow Pose
हलासन (Halasana) Bow Pose

इस योग के अभ्यास से आपकी आंखों की रोशनी बढ़ती है और सिर में रक्त संचार बढ़ता है।

कैसे करें:-
  • हलासन योग को करने के लिए आप फर्श पर पीठ के बल सीधे लेट जाएं।
  • अब अपने पैरों को फर्श से उठाएं और दोनों पैरों को 90 डिग्री के कोण पर खड़े रखें।
  • फिर अपने पैरों को सिर के ऊपर ले जाते हुए 180 डिग्री के कोण पर मोड़ें जब तक कि आपके पैर की उंगलियां फर्श को न छू लें।
  • आपकी पीठ फर्श से लंबवत होनी चाहिए।
  • इस प्रक्रिया को धीरे-धीरे और आराम से करें।
  • सांस लेते रहें और आराम महसूस करें।

सिंहासन (Singhasana) Lion Pose

(Singhasana) Lion Pose
(Singhasana) Lion Pose

सिंहासन एक उत्कृष्ट आसन है जिसे करना अपेक्षाकृत आसान है और इसे बच्चे से लेकर युवा तक सभी कर सकते हैं। इस आसन का अभ्यास अन्य योग आसनों के साथ करना चाहिए।

कैसे करें:-
  • आराम से बैठो।
  • दोनों हथेलियों को घुटनों पर दबा कर रखें और शरीर को थोड़ा आगे की ओर ले आएं।
  • सांस छोड़ते हुए जीभ को इस तरह बाहर निकालें कि वह ठुड्डी को छू रही हो। अपना मुंह खुला रखो।
  • आज्ञा चक्र को अपनी आंखों से देखने का प्रयास करें।
  • मुंह या नाक से सांस लें।
  • चेहरे की खूबसूरती तो बढ़ती ही है साथ ही आंखों की रोशनी भी बढ़ती है।

त्राटक योग क्रिया (Trataka Yog Kriya) Trataka Meditation

त्राटक योग क्रिया (Trataka Yog Kriya) Trataka Meditation
त्राटक योग क्रिया (Trataka Yog Kriya) Trataka Meditation

यह आंखों की सफाई के लिए किया जाने वाला व्यायाम है।

कैसे करें:-
  • किसी वस्तु पर टकटकी लगाकर आराम से बैठें। बिना पलक झपकाए वस्तु को तब तक देखते रहें जब तक कि आपकी आंखों से पानी न निकलने लगे।
  • फिर, अपनी आँखें बंद करें और उस वस्तु की कल्पना करने का प्रयास करें जिसे आप लंबे समय से देख रहे हैं।
  • हर बार जब आप यह व्यायाम करें तो अपनी आंखें बंद रखें और वस्तु को देखने के लिए समय बढ़ाएं।

प्लाम रबिंग (Plam Rubbing)

प्लाम रबिंग (Plam Rubbing)
प्लाम रबिंग (Plam Rubbing)
  • सबसे पहले सुखासन, पद्मासन या वज्रासन में बैठ जाएं। अब अपनी आंखें बंद कर लें इसके बाद अपनी दोनों हथेलियों को आपस में इस तरह रगड़ें कि वे गर्म हो जाएं और अपनी दोनों पलकों पर रखें।
  • दोनों आंखें बंद करके महसूस करें कि हथेलियों की गर्मी आंखों तक पहुंच रही है।
  • यह क्रिया आंख की मांसपेशियों को आराम देने में मदद कर सकती है।
  • हथेलियों को आंखों के ऊपर कुछ देर तक ऐसे ही रखें और फिर उन्हें पीछे की ओर रगड़ें और आंखों पर लगाएं।
  • यह क्रिया कम से कम 5 मिनट तक की जा सकती है।

पलक झपकाना (Blinking Eyes)

  • ज्यादातर सुखासन, पद्मासन या वज्रासन में बैठकर अपनी आंखें खुली रखें। इसके बाद करीब 5 सेकेंड तक तेजी से आंखें झपकाएं।
  • अब 5 सेकंड के लिए अपनी आंखें बंद करें और सांस की गति पर ध्यान दें।
  • बेहतर परिणाम के लिए इस अभ्यास को लगभग पांच से छह बार दोहराया जा सकता है।

आंखों को घुमाने वाला योग (Rotating Eyes Yoga)

रोटेटिंग आई योगा करने के लिए अपने दाहिने हाथ में मुट्ठी बना लें और अपने अंगूठे को ऊपर की ओर रखें। अब दृष्टि को मुट्ठी के अंगूठे पर केंद्रित करें।

  • अपने हाथों को गोलाकार गति में घुमाते हुए एक गोला बनाएं और अपनी आंखों को अपने अंगूठे पर रखें। दक्षिणावर्त और वामावर्त दिशाओं में 5 बार घुमाएं।
  • उपरोक्त सभी अभ्यासों को पूरा करने के बाद कुछ देर शवासन में लेट जाएं और आराम करें। सामान्य रूप से सांस लें और किसी भी विचार का विरोध न करें।

सवासना (Savasana) Corpse Pose

सवासना (Savasana) Corpse Pose
सवासना (Savasana) Corpse Pose

ऐसा करने से सवासना , आँखों में आराम मिलता है, और रोशनी बढ़ने लगती है। इसके साथ ही यह कई गंभीर बीमारियों जैसे उच्च रक्तचाप, मधुमेह, मनोविकृति, अवसाद, हृदय रोग आदि से लड़ने में भी मदद करता है।

निष्कर्ष (Conclusion)

आंखों के लिए योग तनाव को कम करके और अपने फोकस में सुधार करके आंखों के तनाव में मदद कर सकता है। लेकिन नेत्र व्यायाम अभी भी उपचार का स्वीकृत रूप नहीं है। नेत्र योग का समर्थन करने के लिए हमें और अधिक वैज्ञानिक शोध की आवश्यकता है।

You Can Also Visit On My YouTube Channel: Fitness With Nikita

Also, Read 

Watch Best Hollywood MoviesBollywood Movies, and Web Series in Full HD FREE.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here