Best Home Remedies for Fever,Cold and Cough in Hindi

0
105
Best Home Remedies for Fever,Cold and Cough in Hindi
Best Home Remedies for Fever,Cold and Cough in Hindi

Best Home Remedies for Fever,Cold and Cough in Hindi:बदलता मौसम अपने साथ सर्दी-खांसी और वायरल फीवर जैसी कई तरह की बीमारियां लेकर आता है। ये बीमारियां दिखने में मामूली लगती हैं लेकिन इनमें काफी परेशानी होती है।

  • उनके लक्षणों में गले में खराश, नाक बंद, सर्दी, खांसी, बुखार और दर्द शामिल हैं। वैसे तो लोग ठीक होने के लिए खांसी की दवा लेते हैं, लेकिन कुछ दिनों बाद खांसी वापस आ जाती है।
  • और सामान्य सर्दी और खांसी के लिए मौखिक ओवर-द-काउंटर (ओटीसी) दवाओं का अत्यधिक उपयोग छोटे बच्चों को नुकसान पहुंचा सकता है।
  • सर्दी-खांसी के कुछ प्राकृतिक घरेलू उपचार इनसे राहत दिला सकते हैं।
  • ओटीसी के साथ, आप अपने डॉक्टर से सर्दी में मदद करने के लिए खांसी के अन्य उपचारों के बारे में पूछ सकते हैं।

आम तौर पर, सर्दी का कोई इलाज नहीं है, लेकिन फ्लू के कई उपचार हैं जो लक्षणों को कम कर सकते हैं। सौभाग्य से, शिशुओं के लिए खांसी और सर्दी के अधिकांश घरेलू उपचारों का कोई दुष्प्रभाव नहीं होता है, हो सकता है कि वे केवल सीमित सहायता प्रदान करें, लेकिन हानिकारक नहीं।

यहां  खांसी, जुकाम और बुखार के लिए कुछ घरेलू उपचार निम्नलिखित है:-

  1. गर्म पानी (Warm Water)

  • यहां एक सरल टिप दी गई है जिसका आपको पालन करना चाहिए जो आपको खांसी-जुकाम-बुखार से लड़ने में मदद कर सकती है। इन स्थितियों में सर्दी-खांसी-बुखार के आसान और सस्ते घरेलू उपचारों के कारण गर्म पानी पीने की सलाह दी जाती है।
  • इससे शरीर में सेल्स हाइड्रेट होते हैं, साथ ही यह कफ को भी ढीला करता है। और मुख गुहा से कफ बाहर आता है और खांसी से छुटकारा पाने में आपकी मदद करता है।
  • इसके अलावा, गर्म पानी विषाक्त पदार्थों को बाहर निकालने में भी मदद करता है, जिससे बुखार में राहत मिलती है।
  1. नींबू (Lemon)

  • नींबू विटामिन सी का एक अच्छा स्रोत है। और विटामिन सी और खट्टे फल वायरल संक्रमण में महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं। हमेशा गर्म या ठंडा नींबू पानी पीने से मदद मिल सकती है।
  • यह ऊपरी श्वसन पथ के संक्रमण को दूर कर सकता है।
  • बच्चों के लिए खांसी और सर्दी के लिए सबसे प्रभावी घरेलू उपचारों में से एक नींबू और शहद का मिश्रण है। यह सिरप सर्दी और खांसी को प्रभावी रूप से ठीक करता है। नीबू का रस और शहद भी वायरल फीवर को कम करता है।
  1. हल्दी दूध (Turmeric Milk)

  • जब दादी माँ के नुस्खों की बात आती है तो सबसे पहले हल्दी वाले दूध के फायदों का नाम आता है। अक्सर हमारी मां या दादी हमें बीमारी, दर्द या चोट लगने पर हल्दी वाला दूध पीने के लिए देती हैं।
  • हल्दी में एंटी-ऑक्सीडेंट, एंटी-बैक्टीरियल और एंटी-वायरल गुण होते हैं जो संक्रमण से लड़ते हैं या कीटाणुओं से हमारी रक्षा करते हैं।
  • रात को सोने से पहले गर्म हल्दी वाला दूध पीने से भी अस्थमा और ब्रोंकाइटिस से तुरंत राहत मिलती है।
  1. मेथी (Fenugreek)

  • मेथी कई बीमारियों के इलाज में भी काफी मददगार होती है।
  • इसके मेथी ठंड के मौसम में खांसी और सर्दी, और जोड़ों के दर्द को प्राकृतिक रूप से दूर करने का काम कर सकती है।
  1. अदरक (Ginger)

  • अदरक में वार्मिंग प्रभाव होता है जो सर्दी और फ्लू के इलाज के लिए एक एंटी-वायरल के रूप में कार्य करता है। यह बलगम और कफ को कम करने में भी मदद करता है। अदरक के सेवन से गले की खराश और दर्द कम होता है।
  • इसके अलावा अदरक में एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण भी होते हैं जो शरीर में सूजन को भी कम करते हैं। इसका उपयोग ऊपरी श्वसन पथ के संक्रमण, खांसी, और ब्रोंकाइटिस के इलाज के लिए किया जा सकता है।
  • अदरक की चाय सर्दी और फ्लू के लक्षणों के लिए सबसे आसान घरेलू उपचारों में से एक है।
  • आयुर्वेद के अनुसार अदरक और शहद का मिश्रण कफ को कम करता है। खांसी से राहत दिलाने में अदरक और शहद बहुत कारगर होते हैं।
  1. काली मिर्च (Black Pepper)

  • काली मिर्च एक आम घरेलू मसाला है जिसका उपयोग सर्दी और खांसी के लक्षणों को कम करने के लिए करना बहुत आसान है। इसमें जीवाणुरोधी गुण होते हैं, और यह एक अच्छे एंटीबायोटिक के रूप में भी काम करता है। यह परिसंचरण और बलगम प्रवाह को भी उत्तेजित करता है।
  • सोने से पहले एक कप काली मिर्च की चाय पिएं। यह खांसी कम करेगा। शहद के साथ काली मिर्च का सेवन काफी असरदार होता है, यह सिरप सर्दी और खांसी को प्रभावी रूप से ठीक करता है।
  • अगर आप खांसी से परेशान हैं तो काली मिर्च के पाउडर को गुड़ में मिलाकर गोलियां बनाकर इसका सेवन करें। आपको जल्द ही राहत मिलेगी।
  1. काला लहसुन (Black Garlic)

  • काले लहसुन के बारे में शायद ही कम लोग जानते होंगे। काला लहसुन एक स्वादिष्ट सुपरफूड है। यह सफेद लहसुन का एक रूप है, जो कि किण्वन द्वारा बनाया जाता है, इसके कई स्वास्थ्य लाभ होते हैं।
  • लहसुन में अद्वितीय एंटी-ऑक्सीडेंट के गुण होते हैं और यह अमीनो एसिड से भरपूर होता है। जो सर्दी-खांसी को ठीक करने में मदद करता है।
  • काले लहसुन का सूप बनाकर गर्मागर्म पिएं।
  1. यष्टिमधु/ मुलेठी (Yashtimadhu)

  • यष्टिमधु (मुलेठी, मुलेठी) स्वाभाविक रूप से मीठा होता है और इसका स्वाद सुखद होता है और साथ ही बच्चे के लिए खांसी और सर्दी के लिए सबसे अच्छा घरेलू उपचार होता है। यह एंटीऑक्सिडेंट में समृद्ध है जो ब्रोन्कियल ट्यूबों में सूजन को कम करता है और बलगम को ढीला करता है जिससे सांस लेना मुश्किल हो जाता है।
  • अध्ययनों से पता चला है कि यष्टिमधु खांसी से राहत दिलाने में अधिक प्रभावी है और पुरानी खांसी और सर्दी के इलाज के लिए निर्धारित है।
  • मुलेठी की टहनी को चबाकर या इस सिरप को 1/2 चम्मच शहद और 1/4 चम्मच मुलेठी के चूर्ण को पानी के साथ मिलाकर पीने से खांसी का असरकारक इलाज होता है।
  1. नमकपानी से गरारे करना (Salt-Water Gargle)

  • गर्म नमक के पानी से मुंह के गरारे करने से कई स्वास्थ्य लाभ मिलते हैं। यह एक विरोधी भड़काऊ, जीवाणुरोधी और कई मौखिक बीमारियों के लिए एक महान निवारक उपाय है।
  • आमतौर पर लोग गले को साफ करने के लिए या सर्दी-खांसी के दौरान नमक के पानी से गरारे करते हैं। ऐसा करने से गले का दर्द कम होता है और सूजन भी दूर होती है।
  1. भाप (Steam)

क्या आप  सर्दी और खांसी से पीड़ित हैं? इसमें चिंता की कोई बात नहीं है।

  • इन बीमारियों से निपटने के लिए कई प्राकृतिक उपचार हैं। इन्हीं में से एक है गर्म पानी से भाप लेना भी। गर्म पानी से भाप लेना एक सरल और तुरंत राहत का तरीका है।

निष्कर्ष (Conclusion)

  • खांसी और जुकाम कई कारणों से लंबे समय तक बना रह सकता है। लेकिन खांसी और सर्दी के लिए कई बेहद प्रभावी घरेलू उपचार हैं, जो आपके लक्षणों को कम कर सकते हैं।
  • यदि आपकी सर्दी, खांसी और बुखार समय के साथ खराब हो जाता है या एक सप्ताह के अंदर डॉक्टर से मिलें।

You Can Also Visit On My YouTube Channel: Fitness With Nikita

Also, Read 

Watch Best Hollywood MoviesBollywood Movies, and Web Series in Full HD FREE.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here